Translate

आप के लिए

हिन्दुस्तान का इतिहास-.धर्म, आध्यात्म, संस्कृति - व अन्य हमारे विचार जो आप के लिए है !

यह सभी को ज्ञान प्रसार का अधिकार देता है। यह एेसा माध्यम है जो आप के विचारों को समाज तक पहुचाना चाहाता है । आप के पास यदि कोई विचार हो तो हमे भेजे आप के विचार का सम्मान किया जायेगा।
भेजने के लिए E-mail - ravikumarmahajan@gmail.com

13 December 2015

कैसे बनायें अपने व्यक्तित्व को आकर्षक।।

ये हमेशा से ही उत्सुकता का विषय रहा है कि वो क्या खूबियाँ हैं जो किसी व्यक्ति को दिलचस्प बनाती हैं. पुरुष और महिलाएं, दोनों ही अपने व्यक्तित्व को और अधिक आकर्षक बनाना चाहते हैं और हर संभव प्रयास भी करते हैं. दरअसल वो क्या है जो हमारे व्यक्तित्व को आकर्षक बनाता है ? 

1. शारीरिक सुन्दरता 


शारीरिक सुन्दरता का आकर्षक व्यक्तित्व के विकास में योगदान होता है लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि अगर आप सुन्दर नहीं हैं तो आपका व्यक्तित्व आकर्षक नहीं हो सकता. अपने आप को आप जितना अच्छा बनाये रखे , बनाये. अच्छे , साफ़ –सुथरे और स्त्री किये हुए कपडे पहने है कि आप लेटेस्ट फैशन के और महंगे कपडे पहने वो पहने जो कि सबसे पहले दूसरे अन्य को पसंद आये और आप उन कपड़ों में आराम महसूस करें। 
जो आप हैं वो ही रहें  आप जो हैं वो ही रहें, कोई और बनने की कोशिश न करें. जो बातें आपको दुसरे लोगों में पसंद हैं उन्हें सीखने की कोशिश करें , उनकी नक़ल न करें अन्यथा आपकी स्थिति हास्यपद हो सकती है ! बस अपने आप को बेहतर बनाने की कोशिश कीजिये, अपने लिए न कि दूसरों के लिए।

2. शिष्टाचार
  
एक आकर्षक व्यक्तित्व के लिए शिष्टाचार बहुत जरूरी है, अपने बात करने के ढंग को संवारिये, अशिष्ट भाषा और अत्यधिक बात करने से बचिए, व्यावहारिक बने, किसी को भी अहंकार पसंद नहीं होता, याद रखिये दुसरे लोग भी अच्छे हैं. कोई आपके लिए कुछ अच्छा करता है तो उसका आभार माने और जताएं भी, झूट न बोले और गप्पबाजी न करें क्यूंकि ऐसे लोगो पर कोई विश्वास नहीं करता.किसी के पीठ पीछे उसके बारे में कुछ न कहें अगर आपको किसी व्यक्ति में कुछ बुराई दिखती है तो उसे नजरंदाज कर दें और न ही अपनी कमजोरियों की चर्चा  हर किसी से करें और साथ ही सर्वगुण सम्प्पन दिखने की कोशिश भी न करें.अपनी गलतियों को स्वीकार करना सीखें,  एकदम मिलते ही किसी से अत्यधिक मित्रतापूर्ण व्यवहार भी अच्छा नहीं है. अपनी सीमायें समझें।।

3. मुस्कान 


मुस्कराईये कृतिम नहीं स्वाभाविक लेकिन उसके लिए आपको अभ्यास करना होगा ताकि वो आपकी आदत बन जाये! आपके दिमाग में हर समय अच्छे विचार होने चाहिए क्यूंकि वे ही आपके चेहरे पर मुस्कान के रूप में नजर आते हैं, हमेशा सकारात्मक सोचें और नकारात्मक विचारों को अपने दिमाग में न आने दें.

4. आत्मविश्वास 


आत्मविश्वास आकर्षक व्यक्तित्व की कूंजी है. बात करने में लडखडाहट और अनिश्चितता दुर्बल व्यक्तित्व को दर्शाते हैं. लेकिन सावधान ! कहीं आपका आत्मविश्वास अहंकार तो नहीं.  किसी महापुरुष ने कहा है --आत्मविश्वास और अहंकार के बीच में एक बहुत ही बारीक रेखा है।आत्मविश्वास आपको बहुत कुछ दे सकता है जबकि अहंकार आपसे बहुत कुछ छीन सकता है.

5. अभिरुचि 

हर व्यक्ति किसी चीज के लिए भावुक होता है, वो क्या है जिसके प्रति आप भावुक हैं, आप सीखना चाहते हैं , ढूंढिए . कुछ भी -- संगीत, कला, खेल या फिर कुछ और. उसे सीखिए और प्रयोग कीजिये. याद रखिये भावुक और बहुगुणी व्यक्ति कुंद और उबाऊ लोगों की तुलना में अधिक आकर्षक होते हैं. साथ ही सामान्य ज्ञान रखें और अपने आस पास हो रही घटनाओं के बारे में पढ़े ताकि जरूरत पड़ने पर आप चार लोगो के बीच उस मुद्दे पर बात कर सकें।।

तो ये थे अपने व्यक्तित्व को आकर्षक बनाने के कुछ आसान तरीके. इन पर एक नज़र डालिए और जो संभव हों उनको अमल करने की कोशिश कीजिये और इस विचार के साथ आज घर से बहार निकालिए कि आज आपके अन्दर छुपा हुआ प्रकाश बहार निकल रहा है। 
...........................................
पढे







No comments:

Post a Comment

धन्यवाद